सांचौर : छह दिन में छह हजार प्रवासी गुजरे

जागरूक टाइम्स 471 Mar 31, 2020

सांचौर। कोराना वायरस के प्रकोप को लेकर जारी लॉकडाउन के बाद पिछले छह दिनों में करीब छह हजार प्रवासी क्षेत्र में आ चुके हैं। इससे ज्यादा लोग बाड़मेर- जैसलमेर सहित अन्य जिलों के लिए यहां से होते हुए गुजरे हैं। ऐसे सभी प्रवासी महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक सहित अन्य राज्यों से आए हैं। जो कि हाल के दिनों में कोरोना से काफी प्रभावित क्षेत्र हैं। हालांकि सरकार द्वारा बॉर्डर को पूर्ण रूप से सीज करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं, किन्तु प्रशासन की मजबूरी यह है कि दक्षिण राज्यों से आने वाले प्रवासियों के पैदल जत्थे को रोक पाना प्रशासन के लिए संभव नहीं हो रहा है। ऐसे में कोराना प्रभावित क्षेत्र से आने वोल प्रवासियों से संक्रमण का खतरा भी बढ़ गया है।

हालांकि प्रशासन ने औपचारिकता के तौर पर गुजरात बॉर्डर को सीज करने का एनाउंस भी करवा दिया है। किन्तु धरातल पर उक्त आदेश की पालना करना प्रशासन के लिए चुनौती पैदा कर रहे हैं। जिसको जोधपुर रेंज के आईजी ने रविवार को गुजरात बॉर्डर की सीमा का मौका स्थल पर आकर जायजा भी लिया था। इस दौरान अधिकारियों को निर्देश भी जारी किए थे। जिसको लेकर प्रशासन ने बॉर्डर पर अतिरिक्त सुरक्षा बल को तैनात करने के निर्देश जारी किए हैं।

कोरोना टेस्ट करवाना हर आदमी के लिए संभव नहीं
कोरोना मरीज की जांच करने के लिए मरीज की जांच करना स्थानीय स्तर पर सुविधा का अभाव है। ऐसे में संदिग्ध मरीज को जालोर भेजना पड़ता है। ऐसे में प्रशासन के लिए भी यह मुसीबत बना हुआ है। हालांकि प्रशासन ने उपखंड मुख्यालय व ग्रामीण स्तर पर प्रवासियों के आने व संदिग्धों का पता लगाने का लेकर सूचना तंत्र को सक्रियता से बना रखा है।

इनका कहना है
गुजरात व राज्य की सीमा को पूर्ण रूप से सीज कर दिया गया हैै। कोई भी व्यक्ति अब सीमा में प्रवेश नहीं कर सकता। अगर नियम का उल्लंघन करते पाया गया तो कार्यवाही होगी। - जगतसिंह, कार्यवाहक थानाधिकारी पुलिस थाना, सांचौर

Leave a comment