जोधपुर : संदिग्ध मरीज के भागने पर मची अफरातफरी

जागरूक टाइम्स 331 Mar 29, 2020

जागरूक टाइम्स संवाददाता

जोधपुर । कोरोना वायरस के खौफ से संदिग्ध मरीज अस्पताल से भागने लगे हैं। दो दिन पहले एमडीएम अस्पताल से एक संदिग्ध युवती भाग निकली थी, वहीं आज सुबह महात्मा गांधी अस्पताल में तेज बुखार व खांसी के कारण चेकअप के लिए आया एक मरीज भाग निकला। उसके भागने पर पूरे अस्पताल में अफरातफरी मच गई। बाद में पुलिस ने उसे पकड़ा और स्वास्थ्य विभाग की टीम को सौंपा। इसके बाद अस्पतालकर्मियों ने राहत की सांस ली। शहर के महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय में शनिवार सवेरे एक युवक अपनी जांच कराने पहुंचा। उसे तेज बुखार था, साथ ही खांसी व जुकाम भी हो रखा था। अस्पताल के डाक्टरों ने कोरोना संक्रमण की आशंका जताई। इतना सुनते ही यह युवक उल्टे पांव वहां से भाग खड़ा हुआ।

पुलिस ने पकड़कर सड़क पर बिठाया, आइसोलेशन वार्ड में उपचार

नर्सिंग कर्मचारी उसके पीछे भागे। इस दौरान ओलम्पिक रोड पर खड़े पुलिस के जवान भी उसके पीछे भागे और रोक लिया। उसके साथ आए एक परिचित को भी सड़क पर बिठाया गया। यहां थोड़ी देर इंतजार के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची और उन्हें सौंप दिया गया। बाद में डाक्टरों के निर्देश पर कोरोना की जांच के लिए उसे एक एम्बुलेंस में एमडीएम अस्पताल भेजा गया।

अब तक दो एफआईआर दर्ज
बता दें कि अब तक दो संदिग्धों के खिलाफ पुलिस में मामले दर्ज हुए हैं। एमडीएम अस्पताल के सहायक आचार्य और कोविड-19 के सीएमओ डा. विजय वर्मा ने पाल रोड पर पासपोर्ट कार्यालय के सामने रहने वाली एक युवती के खिलाफ लोक सेवक के विधि पूर्ण आदेश की अवहेलना और संक्रामण बीमारी को फैलाने संबंधी उपेक्षापूर्ण आचरण करने का मामला शास्त्रीनगर थाने में दर्ज करवाया था। कोरोना वायरस की संदिग्ध के रूप में युवती को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी जांच की गई थी। इस दौरान गुरुवार देर शाम वह जांच कराने के बहाने सुरक्षाकर्मी को चकमा देकर वार्ड से बाहर निकल गई थी। मरीज को गायब पाकर चिकित्सा कर्मचारियों ने उसकी तलाश की। फिर पुलिस को सूचना दी गई थी। पुलिस उसके घर पहुंची तो वह मिल गई थी। जिसे बाद में एमडीएम अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया था। इसी तरह कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की आशंका के चलते होम आइसोलेट करने के बावजूद चौपासनी हाउसिंग बोर्ड सेक्टर 9 में मोहल्ले में घूमने वाले युवक के खिलाफ देवनगर थाने में एफआइआर दर्ज की गई है। यह रिपोर्ट थानाधिकारी की तरफ से उसके खिलाफ कोविड-19 के प्रावधानों व एडवाजरी का उल्लंघन, घूमने-फिरने से संक्रमण फैलने की पूर्ण आशंका के चलते दी है।



Leave a comment