सिरोही : जरूरतमंदों के लिए उठे मदद के हाथ

जागरूक टाइम्स 95 Mar 29, 2020


जागरूक टाइम्स संवाददाता

सिरोही। 'कोविड 19' के खिलाफ जंग में लोगों को 'कोरोना वायरसÓ के संक्रमण से बचाव के लिए लागू 'लॉकडाउनÓ के कारण मजदूरी के जरिए दो जून की रोटी का जुगाड़ करने में असमर्थ जरूरतमंदों की मदद के लिए जिले के उदारमना लोग आगे आने से उनकी मुसीबतें काफी कम हो गई हैं। जिला प्रशासन की अपील पर आगे आने वाले ऐसे उदारमनाओं में राजनीतिक, समाजसेवी, धार्मिक व सामाजिक संगठन एवं भामाशाह शामिल हैं। जिलेभर में ऐसे संगठन प्रशासन के जरिए खाना, रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं के किट्स व अन्य जरूरी वस्तुएं पहुंचाने लगे हैं। ऐसे उदारमना जरूरतमंदों के लिए किसी आशीर्वाद से कम साबित नहीं हो रहे हैं। अमूमन हाथ में डंडा थामने वाली पुलिस के कई कर्मचारी भी इस नेक कार्य में पीछे नहीं रह रहे हैं। भाजपा के जिलाध्यक्ष नारायण पुरोहित लोगों की मदद के लिए हेल्पलाइन नम्बर जारी कर चुके हैं और अपनी टीम के सदस्यों को सरकार की एडवाइजरी की सीमा में रहकर लोगों की मदद करने के बारे में दिशा-निर्देश दे चुके हैं। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य ने भी अपनी टीम के तमाम ब्लॉक के प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं।

कफ्र्यू के हालात, अनावश्यक बाहर निकलने पर कार्रवाई
उधर, लॉकडाउन के चलते सिरोही समेत पूरे जिले में लगातार सातवें दिन शनिवार को भी कफ्र्यू के हालात रहे। लोग महज आवश्यक कार्य से ही घरों से बाहर निकले। लोगों ने 'सोशल डिस्टेसिंग' को मंत्र के रूप में स्वीकार कर लिया होने से चाहे दूध, सब्जी, आवश्यक वस्तुएं या दवाइयां लेने गए हो, वहां बराबर दूरी बनाए रखी। शहर के मेडिकल स्टोर पर दवाइयां लेने पहुंचे लोगों ने भी 'सोशल डिस्टेसिंगÓ बनाए रखी। शहर में सभी की-पाइंट पर पुलिसकर्मी तैनात रहे और पुलिस की गश्त भी जारी रही। हालांकि, लॉकडाउन का उल्लंघन कर बगैर कार्य के पैदल बाहर निकलने वालों को पुलिस ने जरूर लाल आंख दिखाई। जिले में इक्का-दुक्का लोगों के खिलाफ गिरफ्तारी की भी कार्रवाई की गई। वाहन के साथ निकलने पर कई जगह कार्रवाई भी की गई। ऐसी घटनाएं बस स्टैण्ड के आसपास, भाटकड़ा चौराहा समेत कई गली-मोहल्लों में बनी। सड़कों पर पैदल चलने वालों को छोड़कर सन्नाटा पसरा रहा।



Leave a comment