भारत में कोरोना : 45 मौतें, 1440 संक्रमित

जागरूक टाइम्स 152 Apr 1, 2020

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के चलते हालात बिगड़ते जा रहे हैं। संक्रमण से अब तक 45 मौतें हो चुकी हैं। चंडीगढ़ में मंगलवार को संक्रमण से मौत का पहला मामला सामने आया। यहां 65 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। वे पंजाब पुलिस से रिटायर हुए थे। इसके अलावा केरल के तिरुवनंतपुरम में कोरोना पॉजिटिव 68 साल के व्यक्ति की मौत हो गई। मेडिकल कॉलेज के अफसर के मुताबिक उसकी किडनी फेल हो चुकी थी। मध्यप्रदेश के इंदौर में 49 साल की महिला जरीन बी ने सोमवार देर रात दम तोड़ दिया। मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक वह डायबिटीज और हाई ब्लडप्रेशर की भी मरीज थी।

कई राज्यों का हाल बेहाल
केरल में 234, उत्तर प्रदेश में 101, कर्नाटक में 98, दिल्ली में 97, राजस्थान में 93, तेलंगाना में 77, तमिलनाडु में 74, गुजरात में 73, मध्य प्रदेश में 66, जम्मू-कश्मीर में 55, पंजाब में 41, आंध्र प्रदेश में 40, हरियाणा में 36, पश्चिम बंगाल में 26, बिहार में 16, चंडीगढ़ में 13, लद्दाख में 13, अंडमान निकोबार में 10, छत्तीसगढ़ में आठ, उत्तराखंड में 7, गोवा में पांच, हिमाचल प्रदेश में 3, ओडिशा में 3, मणिपुर में एक, मिजोरम में एक और पुडुचेरी में एक मामला आया है। कोरोना वायरस के प्रकोप को बढऩे से रोकने के लिए 14 अप्रैल तक देश में संपूर्ण लॉकडाउन है। कुछ मामलों को छोड़ दिया जाए तो इसे सख्ती से लागू किया गया है। बार-बार सरकार और सामाजिक संगठन लोगों से लॉकडाउन मानने की अपील कर रहे हैं।

लोगों का साथ नहीं मिलने से बढ़े मामले
नई दिल्ली। देश में कोरोना का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। अभी तक भारत में कुल 1251 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इसके अलावा 102 लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं। महाराष्ट्र और केरल सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले राज्यों में से हैं। दिल्ली में भी मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। निजामुद्दीन मजरक से एक दिन में 24 कोविड-19 पॉजिटिव केस सामने आए हैं।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने राज्य सरकारों के साथ मिलकर केंद्र सरकार काम कर रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कुछ जगहों पर लोगों का समर्थन नहीं मिलने के कारण मामले बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग में सभी समुदायों का सहयोग जरूरी है। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग की बात को दोहराते हुए लॉकडाउन का पालन करने के लिए कहा है।

साथ ही उन्होंने कहा कि मकान मालिक मेडिकल स्टाफ को परेशान नहीं करें। परेशान करने वालों पर पुलिस कार्रवाई करेगी। वहीं, आईसीएमआर ने कहा है कि अभी तक भारत में 42,788 सैंपल का कोविड-19 टेस्ट हुआ है। इनमें से 4346 सैंपल की जांच सोमवार को हुई है। यह आंकड़ा आईसीएमआर की क्षमता का 36 प्रतिशत के बराबर है। साथ ही यह भी बताया कि देश में 123 लैब काम कर रहा है। 49 प्राइवेट लैब को भी कोरोना वायरस के सं क्रमण के जांच की अनुमति दी गई है। सोमवार के देश के प्राइवेट लैब में 399 सैंपल की जांच हुई।

Leave a comment