इस बार लहर नहीं, ललकार है, इस लिए महामिटावटी कुनबे में हड़कंप मचा : मोदी

जागरूक टाइम्स 931 Apr 24, 2019

नई दिल्ली (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार सुबह झारखंड के लोहरदगा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जनता दोबारा भाजपा सरकार बनाने के प्रति पूरी तरह जागरुक है। पीएम मोदी ने कहा कि इस बार लहर नहीं ललकार है। इस ललकार ने दिल्ली की कुर्सी पर नजर गढ़ाए हुए महामिलावटी कुनबे में हड़कंप मच गया है।

पीएम मोदी ने कहा दो चरण के बाद तो विरोधी नकली हंसी हंस रहे थे, लेकिन तीसरे चरण के बाद अब विरोधियों ने भी कुबूल कर लिया है कि इस बार मोदी सरकार बनने जा रही है। पहले ये लोग मोदी को गाली देते थे, लेकिन अब वे ईवीएम को गाली दे रहे हैं। इन्होंने अभी से ईवीएम पर हार का ठीकरा फोड़ना शुरू कर दिया है।

मोदी बोले अब ईवीएम को भी गाली खानी पड़ रही है, जब इनकी हार तय हो गई है, तो बेचारी ईवीएम के नसीब में भी गाली आ गई है। विपक्ष में कुछ लोग शीशे पर पीएम लिख अपना चेहरा देखते थे, लेकिन अब सपने टूट गए हैं। रैली में प्रधानमंत्री ने कहा आज आतंकवाद ना सिर्फ भारत बल्कि दुनिया के लिए बड़ी चुनौती बन गया है।

कुछ दिन पहले पड़ोसी मुल्क श्रीलंका में भी आतंकियों ने भगवान ईशू की पूजा कर रहे लोगों की जान ले ली। सन 2014 से पहले पाकिस्तान ऐसे ही भारत में हमले करवाता था, तो कांग्रेस की सरकार रोना शुरू कर देती थी। लेकिन क्या डर-डर कर आतंकवाद से लड़ा जा सकता है क्या।

लेकिन पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया और घर में घुसकर आतंकियों को मारा, यह चौकीदार की सरकार ने किया है। हर किसी को पता है कि अगर भारत पर हमला हुआ तो मुंहतोड़ जवाब मिलेगा। हम हर भारतीय की सेवा करेंगे, चाहे वह मस्जिद जाता हो या फिर चर्च उसकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है।

पीएम मोदी बोले कि जब विदेश में भारत की नर्सें फंस गई थीं तो हमने यह नहीं देखा कि कौन किस धर्म से है, लेकिन हमने सिर्फ भारतीय होने के नाते हर लड़की को बचाया। कांग्रेस और उसके महामिलावटी लोग पाकिस्तान को सबक सिखाने वाले जवानों पर सवाल खड़े करते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री आज बयान दे रहे हैं कि फौज में वे नौजवान ही जाते हैं जिन्हें दो वक्त की रोटी नसीब नहीं होती। पीएम मोदी ने कहा-डूब मरो, डूब मरो ऐसी सोच रखने वालो। विपक्ष के नेता देश के शहीदों का अपमान कर रहे हैं। कांग्रेस के पास सिर्फ वंशवाद है और गरीब को गरीब बनाए रखने की योजनाएं हैं।


Leave a comment